प्रिंट

सत्रहवीं लोक सभा

an>

Title: Speaker made Valedictory Reference on the conclusion of the Third Session of the Seventeenth Lok Sabha.

माननीय अध्यक्ष: माननीय सदस्यगण, अब हम सत्रहवीं लोक सभा के तीसरे सत्र की समाप्ति की ओर गए हैं, जो 31 जनवरी, 2020 को आरंभ हुआ था इस सत्र के दौरान, हमने 23 बैठकें (आज की बैठक सहित) कीं, जो 109 घंटे 23 मिनट तक चलीं

सभा ने 31 जनवरी, 2020 को दोनों सदनों के सदस्यों को महामहिम राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव को अंगीकृत किया प्रस्ताव 15 घंटे 21 मिनट तक चले सुव्यवस्थित वाद-विवाद के पश्चात स्वीकार किया गया

इस सत्र में महत्वपूर्ण वित्तीय, विधायी और अन्य कार्यों का भी निपटान हुआ । केन्द्रीय बजट 2020-21 पर चर्चा 11 घंटे 51 मिनट तक चली । रेल मंत्रालय के नियंत्रणाधीन वर्ष 2020-21 के लिए अनुदानों की मांग सं. 83 के लिए चर्चा 12 घंटे 31 मिनट तक चली । सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय के नियंत्रणाधीन वर्ष 2020-21 के लिए अनुदानों की मांग सं. 92 और 93 के लिए चर्चा 5 घंटे 21 मिनट तक चली । पर्यटन मंत्रालय के नियंत्रणाधीन अनुदानों की मांग सं. 98 के लिए चर्चा 4 घंटे और 1 मिनट तक चली ।

वर्ष 2020-21 के लिए केन्द्रीय बजट के संबंध में शेष मंत्रालयों की अन्य सभी बकाया अनुदानों की मांगों को सभा में मतदान के लिए रखा गया और 16 मार्च, 2020 को पूरी तरह से स्वीकृत किया गया तथा संबंधित विनियोग विधेयक पारित किया गया ।

वर्तमान सत्र के दौरान, 16 सरकारी विधेयक पुरःस्थापित हुए । कुल मिलाकर, 13 विधेयक पारित हुए ।

98 तारांकित प्रश्नों के मौखिक उत्तर दिए गए ।

प्रश्न काल के पश्चात्, सदस्यों ने शाम को देर तक बैठकर लगभग 436 अविलंबनीय लोक महत्व के मामले उठाए । माननीय सदस्यों ने नियम 377 के अधीन कुल 399 मामले भी उठाए ।

माननीय संसदीय कार्य मंत्री के सरकारी कार्य के संबंध में 2 वक्तव्यों सहित मंत्रियों ने विभिन्न महत्वपूर्ण विषयों पर कुल 16 वक्तव्य दिए ।

इस सत्र के दौरान, संबंधित मंत्रियों ने कुल 1765 पत्र सभा पटल पर रखे ।

सभा में दिल्ली के कुछ हिस्सों में कानून और व्यवस्था की स्थिति के संबंध में नियम 193 के अंतर्गत एक अल्पकालिक चर्चा भी की गई । चर्चा पर संबंधित मंत्री ने उत्तर दिया और यह 4 घंटे 37 मिनट तक चली ।

इस सत्र में, विभिन्न महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा करने के लिए यह सभा 21 घंटे 48 मिनट देर तक बैठी ।

जहाँ तक गैर-सरकारी सदस्यों के संकल्पों का संबंध है, कुँवर पुष्पेंद्र सिंह चंदेल द्वारा 21 जून, 2019 को प्रस्तुत बुंदेलखंड क्षेत्र में जल संकट और छुट्टा गोवंश की समस्या को दूर करने के लिए केन-बेतवा नदी संपर्क परियोजना द्वारा नहरों का निर्माण संबंधी संकल्प पर 28 जून, 2019 को, 19 जलाई, 2019 को और 29 नवम्बर, 2019 को पहले तथा दूसरे सत्र के दौरान चर्चा की गयी थी । इस पर वर्तमान सत्र के दौरान 20 मार्च, 2020 को आगे चर्चा की गई ।

संकल्प को सभा की अनुमति से 20 मार्च, 2020 को वापस लिया गया एक अन्य संकल्प श्री रितेश पाण्डेय द्वारा 20 मार्च, 2020 को आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं तथा आंगनवाड़ी सहायिकाओं के लिए कल्याणकारी उपाय के संबंध में पेश किया गया और उस पर उस दिन चर्चा पूरी नहीं हुई

 मैं सभा की कार्यवाही को पूरा करने में सभापति तालिका में शामिल अपने माननीय सहयोगियों के प्रति योगदान के लिए आभार व्यक्त करता हूँ मैं माननीय प्रधान मंत्री जी, संसदीय कार्य मंत्री, विभिन्न दलों एवं समूहों के नेताओं और माननीय सदस्यों के प्रति सहयोग के लिए अत्यधिक कृतज्ञ हूँ मैं आप सभी की ओर से प्रेस एवं मीडिया के मित्रों का भी धन्यवाद करता हूँ मैं सभा को प्रदान की गई समर्पित और त्वरित सेवाओं के लिए लोक सभा सचिवालय के अधिकारियों और कर्मचारियों को धन्यवाद देता हूँ मैं सभा की कार्यवाही संचालन में संबद्ध एजेंसियों को उनके द्वारा प्रदान की गई सहायता के लिए धन्यवाद देता हूँ

_________

15.52 hrs

NATIONAL SONG

माननीय अध्यक्ष: माननीय सदस्यगण, कृपया अपने स्थान पर खड़े जो जाएं, क्योंकि अब वन्दे मातरम्की धुन बजाई जाएगी

THE NATIONAL SONG WAS PLAYED

________

 

माननीय अध्यक्ष: अब लोक सभा अनिश्चित काल के लिए स्थगित होती है ।

 

15.53 hrs

Lok Sabha adjourned sine dine

      _________



* Vide Amendments list No. 1 circulated on 21.03.2020.

* Vide Amendments list No. 1 circulated on 21.03.2020.

* Vide Amendments list No. 1, circulated on 21.3.2020

* Vide Amendments list No. 1 circulated on 21.3.2020

* Introduced with the recommendation of the President.

* Introduced with recommendation of the President.

an>

Title: Speaker made Valedictory Reference on the conclusion of the Third Session of the Seventeenth Lok Sabha.

माननीय अध्यक्ष: माननीय सदस्यगण, अब हम सत्रहवीं लोक सभा के तीसरे सत्र की समाप्ति की ओर गए हैं, जो 31 जनवरी, 2020 को आरंभ हुआ था इस सत्र के दौरान, हमने 23 बैठकें (आज की बैठक सहित) कीं, जो 109 घंटे 23 मिनट तक चलीं

सभा ने 31 जनवरी, 2020 को दोनों सदनों के सदस्यों को महामहिम राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव को अंगीकृत किया प्रस्ताव 15 घंटे 21 मिनट तक चले सुव्यवस्थित वाद-विवाद के पश्चात स्वीकार किया गया

इस सत्र में महत्वपूर्ण वित्तीय, विधायी और अन्य कार्यों का भी निपटान हुआ । केन्द्रीय बजट 2020-21 पर चर्चा 11 घंटे 51 मिनट तक चली । रेल मंत्रालय के नियंत्रणाधीन वर्ष 2020-21 के लिए अनुदानों की मांग सं. 83 के लिए चर्चा 12 घंटे 31 मिनट तक चली । सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय के नियंत्रणाधीन वर्ष 2020-21 के लिए अनुदानों की मांग सं. 92 और 93 के लिए चर्चा 5 घंटे 21 मिनट तक चली । पर्यटन मंत्रालय के नियंत्रणाधीन अनुदानों की मांग सं. 98 के लिए चर्चा 4 घंटे और 1 मिनट तक चली ।

वर्ष 2020-21 के लिए केन्द्रीय बजट के संबंध में शेष मंत्रालयों की अन्य सभी बकाया अनुदानों की मांगों को सभा में मतदान के लिए रखा गया और 16 मार्च, 2020 को पूरी तरह से स्वीकृत किया गया तथा संबंधित विनियोग विधेयक पारित किया गया ।

वर्तमान सत्र के दौरान, 16 सरकारी विधेयक पुरःस्थापित हुए । कुल मिलाकर, 13 विधेयक पारित हुए ।

98 तारांकित प्रश्नों के मौखिक उत्तर दिए गए ।

प्रश्न काल के पश्चात्, सदस्यों ने शाम को देर तक बैठकर लगभग 436 अविलंबनीय लोक महत्व के मामले उठाए । माननीय सदस्यों ने नियम 377 के अधीन कुल 399 मामले भी उठाए ।

माननीय संसदीय कार्य मंत्री के सरकारी कार्य के संबंध में 2 वक्तव्यों सहित मंत्रियों ने विभिन्न महत्वपूर्ण विषयों पर कुल 16 वक्तव्य दिए ।

इस सत्र के दौरान, संबंधित मंत्रियों ने कुल 1765 पत्र सभा पटल पर रखे ।

सभा में दिल्ली के कुछ हिस्सों में कानून और व्यवस्था की स्थिति के संबंध में नियम 193 के अंतर्गत एक अल्पकालिक चर्चा भी की गई । चर्चा पर संबंधित मंत्री ने उत्तर दिया और यह 4 घंटे 37 मिनट तक चली ।

इस सत्र में, विभिन्न महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा करने के लिए यह सभा 21 घंटे 48 मिनट देर तक बैठी ।

जहाँ तक गैर-सरकारी सदस्यों के संकल्पों का संबंध है, कुँवर पुष्पेंद्र सिंह चंदेल द्वारा 21 जून, 2019 को प्रस्तुत बुंदेलखंड क्षेत्र में जल संकट और छुट्टा गोवंश की समस्या को दूर करने के लिए केन-बेतवा नदी संपर्क परियोजना द्वारा नहरों का निर्माण संबंधी संकल्प पर 28 जून, 2019 को, 19 जलाई, 2019 को और 29 नवम्बर, 2019 को पहले तथा दूसरे सत्र के दौरान चर्चा की गयी थी । इस पर वर्तमान सत्र के दौरान 20 मार्च, 2020 को आगे चर्चा की गई ।

संकल्प को सभा की अनुमति से 20 मार्च, 2020 को वापस लिया गया एक अन्य संकल्प श्री रितेश पाण्डेय द्वारा 20 मार्च, 2020 को आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं तथा आंगनवाड़ी सहायिकाओं के लिए कल्याणकारी उपाय के संबंध में पेश किया गया और उस पर उस दिन चर्चा पूरी नहीं हुई

 मैं सभा की कार्यवाही को पूरा करने में सभापति तालिका में शामिल अपने माननीय सहयोगियों के प्रति योगदान के लिए आभार व्यक्त करता हूँ मैं माननीय प्रधान मंत्री जी, संसदीय कार्य मंत्री, विभिन्न दलों एवं समूहों के नेताओं और माननीय सदस्यों के प्रति सहयोग के लिए अत्यधिक कृतज्ञ हूँ मैं आप सभी की ओर से प्रेस एवं मीडिया के मित्रों का भी धन्यवाद करता हूँ मैं सभा को प्रदान की गई समर्पित और त्वरित सेवाओं के लिए लोक सभा सचिवालय के अधिकारियों और कर्मचारियों को धन्यवाद देता हूँ मैं सभा की कार्यवाही संचालन में संबद्ध एजेंसियों को उनके द्वारा प्रदान की गई सहायता के लिए धन्यवाद देता हूँ

_________

15.52 hrs

NATIONAL SONG

माननीय अध्यक्ष: माननीय सदस्यगण, कृपया अपने स्थान पर खड़े जो जाएं, क्योंकि अब वन्दे मातरम्की धुन बजाई जाएगी

THE NATIONAL SONG WAS PLAYED

________

 

माननीय अध्यक्ष: अब लोक सभा अनिश्चित काल के लिए स्थगित होती है ।

 

15.53 hrs

Lok Sabha adjourned sine dine

      _________



* Vide Amendments list No. 1 circulated on 21.03.2020.

* Vide Amendments list No. 1 circulated on 21.03.2020.

* Vide Amendments list No. 1, circulated on 21.3.2020

* Vide Amendments list No. 1 circulated on 21.3.2020

* Introduced with the recommendation of the President.

* Introduced with recommendation of the President.

राष्‍ट्रीय सूचना विज्ञान केन्‍द्र द्वारा इस साइट को तैयार और प्रस्‍तुत किया गया है।
इस वेबसाइट पर सामग्री का प्रकाशन, प्रबंधन और अनुरक्षण सॉफ्टवेयर एकक, कंप्‍यूटर (हार्डवेयर एवं सॉफ्टवेयर) प्रबंधन शाखा, लोक सभा सचिवालय द्वारा किया जाता है।